एचटीएमएल क्या है और कैसे सीखें हिंदी में

html kya hai

क्या आप जानना चाहते हैं। एचटीएमएल क्या है और इसे कैसे सीखें। शायद इसका जवाब होगा हां क्योंकि इसलिए ही आप इस आर्टिकल को पढ़ रहे हैं। तो मैं आपको एक बात दूं कि अगर आपने हमारा यह आर्टिकल शुरू से लेकर अंत तक पूरा पढ़ लिया।

तो आपको एचटीएमएल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के बारे में काफी अच्छी जानकारी हो जाएगी की आखिरी यह क्या होती है और इसे कैसे सीखें। मगर उससे पहले मैं आपको एक बात बताना चाहता हूं कि आज के समय में लोग पैसे कमाने के लिए बहुत से तरीकों का इस्तेमाल करत हैं।

जैसे कोई अपना बिजनेस करके पैसे कमाता है कोई जॉब करके या कोई ऑनलाइन तरीकों से पैसे कमाता है। जिन ऑनलाइन तरीकों में से एक तरीका है। ब्लॉगिंग जिसको करने के लिए हमारे पास एक वेबसाइट होनी चाहिए। तभी हम ब्लॉगिंग कर सकते हैं।

वही एक वेबसाइट बनाने के 2 तरीके होते हैं। जिसमें पहला है वर्डप्रेस के ऊपर वेबसाइट बनाना। जिसमें आपको किसी भी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का ज्ञान होना जरूरी नहीं है। मगर वही अगर आप बिना किसी स्क्रिप्ट के अपनी वेबसाइट बनाना चाहते हैं। तो आपको एचटीएमएल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज आनी चाहिए।

अगर आपको यह लैंग्वेज अच्छे से आती है। तो आप बहुत ही आसानी से एक वेबसाइट बना सकते हैं और उसे मैनेज कर सकते हैं यानी अगर आप एक ब्लॉगिंग भी करना चाहते हैं। तो भी आपको एचटीएमएल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का थोड़ा ज्ञान तो होना जरूरी है।

तो फिर चलिए आज हम इसी आर्टिकल में अच्छे से जानते हैं कि एचटीएमएल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज कैसे सीखे और यह आखिर क्या होती है वे इसका इस्तेमाल किस किस जगह पर किया जाता है।

एचटीएमएल क्या है।

एचटीएमएल (HTML) का फुल फॉर्म हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज (Hypertext markup language) होता है। इसको टिक बैरनर्स – ली ने 1980 में बनाया था। यह एक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है। जिसका इस्तेमाल एक वेबसाइट बनाने में किया जाता है यानी आप इसका इस्तेमाल करके एक वेबसाइट को आसानी से बना सकते हैं।

इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को अन्य प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे- सी, सी प्लस प्लस, जावा, पायथन आदि के मुकाबले आसानी से सीखा जा सकता है यानी यह प्रोग्रामिंग लैंग्वेज अन्य प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की तुलना में सरल होती है।

इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का इस्तेमाल मुख्य रूप से वेबसाइट बनाने में किया जाता है। यह एक प्लेटफॉर्म इंडिपेंडेंट लैंग्वेज है यानी इसका इस्तेमाल किसी भी प्लेटफार्म पर किया जा सकता है। जैसे- विंडोज, लीनेक्स आदि।

जावा क्या है और इसे कैसे सीखें।

एचटीएमएल का इस्तेमाल क्यों करते है।

इसका इस्तेमाल वेब पेज या वेबसाइट बनाने में किया जाता है। एचटीएमएल से वेबसाइट बनाने के लिए आपको दो चीजों की जरूरत होगी। जिसमें पहला है टेक्स्ट एडिटर यानी नोटपैड आदि। जिसमें एचटीएमएल कोड लिखा जाता है।

वही दूसरा है ब्राउज़र जैसे- गूगल क्रोम, इंटरनेट एक्सप्लोरर आदि। एचटीएमएल छोटे-छोटे कोड की सीरीज यानी श्रंखला से बना होता है। जिसको हम नोटपैड में लिख सकते हैं। एचटीएमएल में इन छोटे-छोटे कोड को टैग (Tags) कहते हैं।

यह टैग ब्राउज़र को बताते हैं कि उस टैग के अंदर लिखे गए एलिमेंट को वेबसाइट में किधर और कैसे दिखाना है। एचटीएमएल में ऐसी बहुत सारे टैग होते हैं। जो ग्राफिक्स, फोंट साइज, कलर आदि के इस्तेमाल से आपकी वेबसाइट को बहुत ज्यादा आकर्षक बनाते हैं।

एचटीएमएल कोड को लिख लेने के बाद आपको डॉक्यूमेंट को सेव करना होता है। आपको एचटीएमएल फाइल को सेव करने के लिए फाइल के नाम के साथ .htm या .html लिखना जरूरी है। तभी वह आपकी एचटीएमएल डॉक्यूमेंट को ब्राउज़र में दिखाएगा अन्यथा नहीं।

अगर आपने फाइल को सेव कर लिया है और आप एचटीएमएल डॉक्यूमेंट को देखना चाहते हैं। तो इसके लिए आपको ब्राउज़र को खोलना होगा। उसके बाद वह ब्राउज़र आपके एचटीएमएल फाइल को रीड करेगा और सही तरीके से लिखे गए कोड को ट्रांसलेट करके सही रूप में वेबसाइट में दिखाएगा।

जैसा आपने एचटीएमएल कोड लिखते समय सोचा था। वही आपका वेब ब्राउजर एचटीएमएल टैग को वेबसाइट में नहीं दिखता बल्कि आपके डॉक्यूमेंट को सही तरीके से देखने के लिए टैग्स का इस्तेमाल करता है।

कोडिंग क्या है और इसे कैसे सीखें हिंदी में पूरी जानकारी।

एचटीएमएल टैग कैसा होता है।

एचटीएमएल टैग एक साधारण शब्द या अक्षर होता है। जो एंगुलर ब्रैकेट (<>) से घिरा रहता है यानी एक साधारण शब्द और एक एंगुलर ब्रैकेट से एक एचटीएमएल टैग का निर्माण होता है। चलिए इसे कुछ उदाहरण से समझते हैं।

पहला उदाहरण।

Form एक साधारण शब्द है। एचटीएमएल टैग में फॉर्म बनाने के लिए फॉर्म टैग का इस्तेमाल किया जाता है। एचटीएमएल लैंग्वेज में फॉर्म टैग बनाने के लिए फॉर्म शब्द को less than और greater than के बीच में लिखने से फॉर्म टैग का निर्माण होता है। जिसे ऐसे लिखा जाता है-

<form>…</form>

दूसरा उदाहरण।

एचटीएमएल डॉक्यूमेंट में पैराग्राफ लिखने के लिए पैराग्राफ टैग का इस्तेमाल किया जाता है। जिसमें पैराग्राफ शब्द का केवल पहला अक्षर यानी P इस्तेमाल किया जाता है।

जिससे पैराग्राफ टैग का निर्माण होता है। इसमें भी P अक्षर को less than और greater than के बीच में लिखा जाता है। इसको कुछ इस प्रकार लिखा जाता है-

<p> text </p>

चलिए आगे जानते हैं एचटीएमएल टैग के कितने प्रकार होते हैं।

पिनकोड क्या होता है और कैसे पता करें हिंदी में पूरी जानकारी।

एचटीएमएल टैग के प्रकार।

अभी तक हमने एचटीएमएल के बारे में काफी कुछ जाना है। जैसे एचटीएमएल क्या है इसका इस्तेमाल क्यों किया जाता है। चलिए अब जानते हैं। एचटीएमएल टैग कितने प्रकार के होते हैं।

एचटीएमएल टैग दो प्रकार के होते हैं।-

  • युग्मित एचटीएमएल टैग (paired HTML tag)
  • अयुग्मित एचटीएमएल टैग (Unpaired HTML tag)

1. युग्मित एचटीएमएल टैग (paired HTML tag)

यह वह एचटीएमएल टैग होते हैं। जिनको जोड़ी में लिखा जाता है। इस टैग के दो भाग होते हैं। पहला भाग ओपनिंग पार्ट होता है। जिसे इस प्रकार लिखा जाता है।-

<tag name>

दूसरा भाग क्लोज़िंग पार्ट होता है। इस भाग को टेक्स्ट के बाद लिखा जाता है। इसको कुछ इस प्रकार लिखा जाता है।-

</tag name>

एचटीएमएल में अधिकतर टैग युग्मित टैग ही होते हैं। लेकिन हर चीज की तरह इसमें भी कुछ अपवाद होते हैं। जैसे- अयुग्मित टैग (Unpaired tag) चलिए जानते हैं। इसके बारे में।

2. अयुग्मित एचटीएमएल टैग ( Unpaired HTML tag)

इस टैग को सिंगुलर एचटीएमएल टैग भी कहते हैं। यह टैग अकेले होते हैं। इस टैग का कोई साथी टैग नहीं होता है। इस टैग मैं ओपनिंग पार्ट और क्लोजिंग पार्ट दोनों को एक साथ लिखा जाता है। इस टैग को कुछ इस प्रकार लिखा जाता है।-

<Tag Name />

चलिए आगे जानते हैं। एचटीएमएल कैसे सीखें।

ऑनलाइन पैसे कमाने के तरीके हिंदी में पूरी जानकारी।

एचटीएमएल कैसे सीखें।

चलिए अब जानते हैं कि एचटीएमएल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को कैसे सीखे। वैसे तो यह प्रोग्रामिंग लैंग्वेज अन्य प्रोग्रामिंग लैंग्वेज की तुलना में काफी आसान है यानी इसे जल्दी सीखा जा सकता है।

इसलिए आपको हम नीचे कुछ तरीकों के बारे में बताएं हैं। जिनसे आप इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को आसानी से सीख सकते हैं।

  1. ऑनलाइन सीखें।
  2. वेब डिजाइनिंग कोर्स ज्वाइन करके सीखें।
  3. ऑफलाइन ट्यूटोरिंग ले।
  4. किताबों से सीखे।
  5. यूट्यूब से सीखे।

चलिए इन तरीकों के बारे में बहुत ही विस्तार से जानते हैं।

1. ऑनलाइन सीखें।

आप इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को ऑनलाइन यानी वेबसाइट से ही सकते हैं। आज के समय में ऐसी कई सारी वेबसाइट से मौजूद हैं।

जहां से आप सिर्फ एसटी मेल ही नहीं और भी अन्य प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीख सकते हैं। उन वेबसाइट्स में से कुछ के नाम हम आपको नीचे दे रहे हैं जहां से आप एचटीएमएल को सीख सकते हैं।

चलिए आगे जानते हैं। दूसरे तरीके के बारे में।

यूट्यूब से पैसे कैसे कमाए।

2. वेब डिजाइनिंग कोर्स ज्वाइन करके सीखें।

अगर आप ऑनलाइन नहीं सीखना चाहते हैं या आपको ऑनलाइन सीखने में परेशानी होती है। तो आप अपने किसी भी नजदीक कंप्यूटर इंस्टिट्यूट में जाकर वेब डिजाइनिंग का कोर्स ज्वाइन कर सकते हैं।

इस कोर्स में आपको एचटीएमएल के साथ-साथ सीएसएस और जावास्क्रिप्ट जैसी अन्य प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के बारे में भी सिखाया जाएगा और वह भी बेसिक से यानी शुरुआत से।

इसलिए आप अपने बजट को ध्यान में रखकर किसी एक अच्छे खासे इंस्टिट्यूट में ज्वाइन करके इसे सीख सकते हैं। वैसे भी यह तरीका परंपरागत है। अगर किसी को कोई भी प्रोग्रामिंग भाषा सीखनी होती है तो ज्यादातर लोग इसी का इस्तेमाल करते हैं।

क्योंकि इस तरीके में आपको काफी अच्छी तरीके से हर एक चीज के बारे में समझाया जाता है और प्रोजेक्ट भी दिए जाते हैं साथ में जब आपको उस पूरा कर लेते हैं। तो आपको एक सर्टिफिकेट भी दिया जाता है। जिसका इस्तेमाल आप किसी भी जॉब में अप्लाई करने के लिए कर सकते हैं।

ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाए।

3. ऑफलाइन ट्यूटोरिंग ले।

वैसे यह भी एक तरह से कोर्स ज्वाइन करने जैसा ही है। मगर फर्क इतना है कि आप इसमें किसी कोर्स वगैरह में एडमिशन नहीं लेते हैं। केवल पड़ोस के एचटीएमएल मास्टर से ट्रेनिंग लेते हैं।

इस ट्रेनिंग का फायदा किसी इंस्टिट्यूट ट्रेनिंग से ज्यादा मिलता है। क्योंकि सीखने वाले केवल आप होते हैं और आपको काम करने का भी अनुभव मिलता है।

क्योंकि इस तरह के ट्यूटोरिंग देने वाले ट्यूटर फ्रीलांसर होते हैं और फ्रीलैंसिंग करके अपना गुजारा चलाते हैं। इसलिए इनके पास कई प्रोजेक्ट्स होते हैं। चलिए आगे जानते हैं। अगले तरीके के बारे में।

फेसबुक से पैसे कैसे कमाए।

4. किताबों से सीखें।

आप एचटीएमएल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को सीखने के लिए किताबों का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। आज के समय में ऐसी कई सारी किताबें मौजूद हैं। जिनका इस्तेमाल करके आप कई सारी प्रोग्रामिंग जब भी सीख सकते हैं।

जरूरी नहीं है आप इन किताबों को खरीदने के लिए किसी स्टेशनरी की दुकान पर जाएं। आप इन्हें इंटरनेट पर भी बड़ी आसानी से खरीद सकते हैं या फिर आप एक ई-बुक खरीद सकते हैं।

जैसे आप अपने मोबाइल या कंप्यूटर में आसानी से पढ़ और समझ सकते हैं और एचटीएमएल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को सीख सकते हैं।

इंस्टाग्राम से पैसे कैसे कमाए।

5. यूट्यूब से सीखे।

आप यूट्यूब पर वीडियोस को देखकर भी एचटीएमएल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीख सकते हैं। आज के समय में यूट्यूब पर ऐसी कई चीजों के बारे में पढ़ाया वह समझाया जाता है। जिनको सीखने के लिए आपको काफी सारा पैसा खर्च करना पड़ता है।

मगर आपको सही चैनल का चुनाव करना चाहिए। जो आपको बिल्कुल सही इंफॉर्मेशन दे सके आपको किसी भी बेकार की वीडियोस को देखा अपना समय खराब नहीं करना चाहिए। वैसे यह तो सच है कि आप वीडियोस को देखकर एचटीएमएल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीख सकते हैं।

मगर हो सकता है की कुछ वीडियोस को देख कर आपको समझ में ना आए इसलिए आपको ही चुनाव करना है कि आप यूट्यूब से सीखना चाहते हैं या किसी अन्य तरीके से।

कैप्चाकोड क्या होता है और कैसे सॉल्व करें।

एचटीएमएल सीखने के फायदे।

चलिए हम जानते हैं। एचटीएमएल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को सीखने के क्या फायदे होते हैं।

  • इस लैंग्वेज को सीखने से आप किसी भी तरह की वेबसाइट को आसानी से बना सकते हैं।
  • इस लैंग्वेज को सीखना काफी ज्यादा आसान है।
  • यह लैंग्वेज सभी वेब ब्राउजर पर चलती है।
  • यह लैंग्वेज ओपन सोर्स है और बिल्कुल फ्री है।
  • यह लैंग्वेज सर्च इंजन फ्रेंडली है।
  • इसकी कोड को एडिट करना बहुत ही ज्यादा आसान है।
  • एचटीएमएल से कोडिंग करने के लिए हमको किसी भी अन्य सॉफ्टवेयर की जरूरत नहीं है। हम इसे किसी भी एडिटर में उपयोग कर सकते हैं।
  • इसे सर्वर साइड स्क्रिप्टिंग जैसे पीएचपी आदि के साथ मिक्स किया जा सकता है।
  • यह बहुत ही लाइटवेट है।
  • इसे सीखने से बुद्धि का भी विकास अच्छे से होता है।

क्यूआर कोड क्या होता है और कैसे बनाएं।

एचटीएमएल से संबंधित प्रश्न उत्तर।

चलिए अब जानते हैं। एचटीएमएल से संबंधित प्रश्न उत्तर।

1. एचटीएमएल का फुल फॉर्म क्या है।

उत्तर: इसका फुल फॉर्म हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज होता है।

2. एचटीएमएल को किसने बनाया था।

उत्तर: एचटीएमएल को टिक बैरनर्स – ली ने बनाया था।

3. एचटीएमएल का इस्तेमाल मुख्य रूप से किसके लिए किया जाता है।

उत्तर: एचटीएमएल का इस्तेमाल मुख्य रूप से वेबसाइट बनाने में किया जाता है।

4. क्या इस लैंग्वेज को सीखना मुश्किल है।

उत्तर: वैसे तो किसी भी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को सीखना मुश्किल होता है। जैसे इसमें भी है। मगर बाकी अन्य लैंग्वेज की तुलना में ऐसे सीखना आसान है।

5. एचटीएमएल मैं सबसे ज्यादा किस का इस्तेमाल किया जाता है।

उत्तर: इस लैंग्वेज में सबसे ज्यादा टैग का इस्तेमाल किया जाता है।

आपने क्या सीखा।

हम आशा करते हैं आपको समझ में आ गया होगा की एचटीएमएल क्या है और इसे कैसे सीखें। अगर आपको किसी चीज के बारे में अच्छे से समझ में नहीं आया है। तो आप हमें कमेंट कर सकते हैं।

हम आपके सवाल का जवाब जरूर देंगे। वहीं अगर आप किसी अन्य विषय के ऊपर जानना चाहते हैं। तो भी आप हमें कमेंट करें। हम उस विषय के बारे में जरूर लिखेंगे। मगर वह हमारे टॉपिक से रिलेटेड होना चाहिए।

वही आप हमारे ब्लॉग पर उपस्थित और भी अन्य आर्टिकल्स को पढ़ सकते हैं। हमने अपने आपने ब्लॉग पर बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की है। हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

Leave a Reply